वैदिक ज्योतिष में कुंडली का महत्वपूर्ण स्थान है इसमें किसी व्यक्ति के जन्म के समय उसके सभी प्रमुख ज्योतिषीय पहलुओं का विवरण होता है यह विभिन्न राशियो ग्रहः और अन्य पहलुओं के स्थान को बताता है जिन्हें ज्योतिषीय विश्लेषण में माना जाता है कुंडली निर्माण केवल एक विशेषज्ञ और अनुभवी ज्योतिषीय /पुरोहित द्वारा किया जाना है क्योंकि यह एक बहुत ही जटिल प्रक्रिया है और इसमें जटिल विवरण शामिल है कौन सा ग्रह किस तरह का योग बनता है ? कुंडली में दोष क्या है ? कुंडली के विश्लेषण के बाद ऐसे कई सवालो के जवाब दिए जा सकते है |कुल मिलाकर कुंडली जन्म के समय ग्रहो की स्थिति और दिशा का वर्णन करती है जिसके आधार पर व्यक्ति का जन्मकुंडली बनती है |

Customers Love Us

Copyright © 2019 Purohit Baba. All rights reserved. | Privacy Policy | Terms and Conditions | Refund Policy | Disclaimer | FAQ